हमारे संपादक
  • White Facebook Icon

अरूण पाण्डेय जी वरिष्ठ पत्रकार है और उन्होनें सहारा , दैनिक जागरण , यूनाइटेड भारत, हरियाणा हैरिटेज, नवभारत टाइम्स व देशबंधु में काम किया है । आजकल भारतीय धर्म संघ व वारदात संस्था की बेबसाइट के लिये काम कर रहें है।

 

Join My Mailing List

© 2023 by Going Places. Proudly created with vardat.org

खबर 

चिदंम्बरम् के भक्त

भक्त चिदंबरम की संपत्ति ऐसे गिना रहे हैं मानों राजनीति में आने से पहले वो पकौड़े बेचा करते थे। बहरहाल आपकी सूचना के लिए उनके पिता पलनियप्पा चेतियार लेफ्टिनेंट कर्नल थे, दादा करोबारी... इस परिवार के पास आज़ादी से पहले भी कपड़ा मिल और चाय बाग़ान थे। चिदंबरम के नाना अन्नामलाई चेतियार बैंकर थे जिन्हें राजा की पदवी हासिल थी। उन्होंने यूनायटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी और अन्नामलाई विश्वविद्यालय की स्थापना की। नाना के भाई रामास्वामी चेतियार इंडियन बैंक और इंडियन ओवरसीज़ बैंक के संस्थापक हैं। यानि राष्ट्रीयकरण से पहले ये बैंक उनकी संपत्ति थे। उनके दो भाई बड़े उद्योगपति हैं। चिदंबरम की पत्नी नलिनि चिदंबरम पीएस कल्यासम की बेटी हैं जो सुप्रीम कोर्ट के जज थे। उनकी सास सौंद्रा लेखक है और तमिल की मशहूर कवियित्री हैं। चिंदंबरम और उनके बेटे कार्ति पेशे से वकील हैं। चिदंबरम ने हार्वर्ड से एमबीए किया है जबकि कार्ति आस्टिन, टेक्सास से बीबीए कर टुके हैं और एलएलएम उन्होंने कैंब्रिज से किया है। कार्ति की पत्नी श्रीनिधि भरतनाट्यम की मशहूर कलाकार हैं। मतलब सब खाते कमाते लोग हैं, इसलिए परिवार के विदेश में 54 करोड़ की संपत्ति, या ज़ोरबाग़ में मकान या फिर दस बीस हज़ार करोड़ की संपत्ति कोई बड़ी नहीं है। तो प्रिय भक्तों, आप पांच रुपये के पारले जी पर फोकस करो। ज़्यादा टांग फैलाने से पैजामा फट सकता है। सुना है मंदी और बेरोज़गारी के दौर में आपके पास चढ्ढी ख़रीदने के पैसे नहीं हैं।